Bihar Election 2020- सभी पार्टियों के घोषणापत्र जारी ,पढ़िये कौन सी पार्टी ने जनता से किए हैं कौन-कौन से वादे ।

कोई 10 लाख रोजगार देने की बात कर रहा है तो कोई 19 लाख रोजगार देने की

Bihar-Election-2020-All-parties-issued-their-manifesto

BLN– शिकारी आएगा , जाल बिछाएगा लेकिन जाल में मत फसना ।  बिहार में चुनाव है , लगभग सभी पार्टियों ने अपने अपने चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिये हैं , लेकिन उपर्युक्त पंक्तियों का बिहार चुनाव से कुछ लेना देना नहीं है , और लेना देना भला हो भी क्यों बिहार मे चुनाव हो रहे हैं कोई शिकार की प्रतिस्पर्धा तो है नहीं जो की यहाँ शिकारी आएंगे जाल बिछएंगे और आम जनता जाल मे फस जाएगी ।

तो बात दरअसल यूं है की बिहार मे पहले चरण की वोटिंग 28 अक्टूबर को होना है , लगभग सभी पार्टियों ने अपने अपने चुनावी घोषणापत्र जारी कर दिये है , कोई 10 लाख रोजगार देने की बात कर रहा है तो कोई 19 लाख रोजगार देने की , कोई विकास की गंगा एक बार फिर से गंगोत्री से निकालकर सीधे बिहार में प्रवाहित करने की बात कर रहा है तो कोई बिहार के विकास जैसे हीं कुपोषित बच्चे के लिए पौष्टिक आहार उपलब्ध कराने की कुल मिलाकर अद्भुत सुख सागर का आनंद प्रदान करने वाले वादों के बादल सम्पूर्ण बिहार के चुनावी आसमान में तैर रहा है ।

चुकी आप जनता जनार्दन हैं और आप सभी इस महीने की 28 तारीख को लोकतन्त्र के महान पर्व मे सम्मिलित होने जा रहे है और बेहतर बिहार के निर्माण के लिए आगामी 5 वर्षों के लिए बिहार के सत्ता की चाभी किसे सौपें इसका निर्णय लेने जा रहे हैं तो इससे पहले आवश्यक है की आप एक नजर सभी पार्टियों के घोषणा पत्र पर डाल लें ताकि आपको फैसला लेने में आसानी हो और आप सही हाथों मे बिहार के मुश्तक्बिल को सौंप सके ।

भाजपा के घोषणापत्र की मुख्य बातें

भाजपा ने बिहार के लिए अपने संकल्प पत्र को पांच सूत्र, एक लक्ष्य और 11 संकल्प का नाम दिया है। भाजपा ने सत्ता में आने पर 19 लाख नए रोजगार के अवसर पैदा करने का वादा किया है।

सभी को मुफ्त कोरोना वैक्सीन दी जाएगी

तीन लाख नए शिक्षकों की नियुक्ति की जाएगी

50,000 करोड़ से एक करोड़ महिलाओं को स्वावलंबी बनाया जाएगा

19 लाख लोगों को नौकरी दी जाएगी

30 लाख लोगों को 2022 तक पक्का मकान दिया जाएगा

हिंदी भाषा में मेडिकल, इंजीनियरिंग समेत तकनीकी शिक्षा होगी

महागठबंधन के घोषणापत्र में मतदाताओं के लिए क्या-क्या है

विधानसभा चुनाव के लिए नवरात्र के पहले दिन महागठबंधन ने अपना घोषणापत्र जारी किया। इसको लेकर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में नेता प्रतिपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव ने ‘प्रण हमारा संकल्प बदलाव का’ टैग लाइन के साथ घोषणापत्र जारी किया। राजद, कांग्रेस और वाम दलों ने सरकार गठन के बाद बिहार के लिए जो प्राथमिकताएं तय की हैं उसके बारे में इस घोषणापत्र में जानकारी दी गई है।

10 लाख युवाओं को रोजगार

नौकरी के लिए साक्षात्कार में जाने वाले अभ्यार्थियों के लिए किराया

पलायन रोकने के लिए काम करेंगे

नियोजित शिक्षकों को समान काम समान वेतन देंगे

जीविका दीदी की नियमित वेतन और राशि बढ़ाई जाएगी

पहले विधानसभा सत्र में केंद्र के कृषि संबंधी तीनों बिल के प्रभाव से बिहार के किसानों को मुक्ति दिलाने का वादा

कांग्रेस के घोषणापत्र में मतदाताओं के लिए क्या-क्या है

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने बुधवार को अपना महागठबंधन से अलग घोषणापत्र जारी किया। पार्टी की तरफ से इसे बिहार बदलाव पत्र नाम दिया गया। किसानों को कर्ज माफी और कृषि कानूनों से बचाने के लिए एक नए कानून को लेकर आने का भी वादा किया गया।

बिहार में सत्ता में आने पर किसानों की कर्ज माफी

गरीबों का बिजली बिल माफ

नौकरी नहीं मिलने तक बेरोजगारों को हर महीने 1500 रुपये देने का वादा

किसानों के सही फसल का सही मूल्य दिलाने का वादा

कृषि कानूनों को खारिज करने का वादा

विधवा महिलाओं को 1000 रुपये पेंशन

लोजपा के घोषणापत्र में मतदाताओं के लिए क्या-क्या है

विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को लोजपा ने अपना विजन डाक्यूमेंट जारी किया। लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने घोषणापत्र जारी करते हुए सीता मैया का भव्य मंदिर बनाने का वादा किया। साथ ही कैंसर संस्थान बनाने का भी वादा किया।

सभी महिलाओं को मुफ्त बस यात्रा

सभी विभागों के अनुमोदित व स्वीकृत पदों में शीघ्र बहाली

समान काम समान वेतन का वादा

कैंसर संस्थानों की स्थापना

बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट युवा आयोग का गठन का वादा

माता सीता का भव्य मंदिर निर्माण का वादा

उम्मीद करता हूँ की इन सभी पार्टियों के घोषणापत्र के मुख्य बिन्दुओं को पढ़कर आप सही फैसला कर पाएंगे की अपना अपने बच्चों का और बिहार के भविष्य को किसके हाथों मे सौपना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here